Monday, July 07, 2008

आज मूड कुछ इस तरह का है

तू जो छूले प्यार से,
आराम से मर जाऊँ,
आजा चंदा बाहों में
तुझ में ही गुम हो जाऊँ मैं,
तेरे नाम में खो जाऊँ,
तुझे जीत जीत हारूँ
ये प्राण प्राण वारूँ,
है ऐसे मैं निहारॐ,
तेरी आरती उतारूँ,
तेरे नाम से जुडें हैं, सारे नाते....

No comments: